Notifications
×
Subscribe
Unsubscribe
यौन-स्वास्थ्य

फर्स्ट टाइम सेक्स – First time sex in Hindi

फर्स्ट टाइम सेक्स

फर्स्ट टाइम सेक्स

फर्स्ट टाइम सेक्स करना हर लड़की और लड़के के लिए जरूरी होता है। इस दौरान दोनों के मन में तरह-तरह के सवाल उठते हैं।  किसी के साथ फर्स्ट टाइम सेक्स करने में  तनाव  ,  डर और घबराहट लगातार मन में हलचल पैदा करती है। साथ ही पार्टनर के सामने गलत इमेज न आने का डर भी लगातार सताता रहता है.

अगर आपकी जल्द ही शादी होने वाली है या किसी के साथ इस तरह का रिश्ता बनने जा रहा है तो आपको कुछ टिप्स का खास ख्याल रखना होगा। इस मौके पर आपको शारीरिक तैयारी से ज्यादा मानसिक तैयारी पर ध्यान देना होगा, लेकिन शारीरिक तैयारी पूरी करना भी बहुत जरूरी है। 

  • आपको अपने मन में आने वाले प्रश्नों के सही उत्तर खोजने होंगे। इसको लेकर जब तक आपके मन में डर बना रहेगा, तब तक आप इसे ठीक से और आसानी से नहीं कर पाएंगे। 
  • फर्स्ट टाइम सेक्स करने पर डर और घबराहट हो सकती है, लेकिन इसके बारे में ज्यादा न सोचें। अगर आप पहले से ही किसी चीज के बारे में सोच रहे हैं और ऐसा नहीं है तो आप भी परेशानी और निराशा में पड़ सकते हैं। 
  • इस दौरान आपके साथ जो भी पल होता है, उसे आपको सहज ही स्वीकार करना होता है। इस बारे में आप किसी खास दोस्त से बात कर सकते हैं।
  • सेक्‍स से पहले आप अपने पार्टनर से इस विषय पर बात कर सकते हैं और उन्‍हें इसके लिए सहज बना सकते हैं।
  • महिलाओं को भी अपने पति के साथ सहज व्यवहार करना चाहिए। साथ ही अपने पार्टनर को कंफर्टेबल बनाकर आप अपने रिश्ते को और भी मजबूत बना सकते हैं।

 

चाहे आप फर्स्ट टाइम सेक्स कर रहे हों या इसके बाद आपको इसके लिए हर बार फिजिकली फिट रहना होगा। इसके लिए आपको शरीर की गतिविधियों पर पूरा ध्यान देना होगा। फर्स्ट टाइम सेक्स करने के लिए सहनशक्ति की आवश्यकता होती है। इसके अलावा आपको इस तरह से रहना होगा कि वह जल्दी थके नहीं। आइए जानते हैं कि फर्स्ट टाइम सेक्स के दौरान शारीरिक रूप से कैसे तैयार रहें।

  • वैसे तो सेक्‍स के दौरान पूरा शरीर मजबूत होना चाहिए, ताकि जब आपका पार्टनर आपके साथ सेक्‍स करे तो आप भी उसका पूरे दिल से सहयोग कर सकें। पुरुषों और महिलाओं दोनों को हाथों और हाथों का व्यायाम करना चाहिए। इससे आपके हाथ मजबूत होंगे और आप अपने पार्टनर का वजन भी संभाल पाएंगे।
  • अपने वजन को नियंत्रण में रखें। अगर आप फर्स्ट टाइम सेक्स
  • करने जा रहे हैं तो वजन पर नियंत्रण रखना बेहद जरूरी है। क्योंकि अगर आपके पार्टनर को आपका वजन बहुत ज्यादा लगता है तो इस दौरान आपका पूरा मूड खराब हो सकता है। 
  • जांघों के पास के क्षेत्र से संबंधित व्यायाम करें। इसके अलावा अपने शरीर को सख्त बनाने की बजाय उसे लचीला बनाने पर भी जोर देना होगा।

नहीं, यह जरूरी नहीं है कि हर महिला को सेक्स करते समय पहली बार खून आए। जिन महिलाओं को फर्स्ट टाइम सेक्स के दौरान ब्लीडिंग नहीं होती है वो भी नॉर्मल है। इस अवस्था में खून की कमी भी महिलाओं की सामान्य स्थिति को बताती है।

पहली बार यौन संबंध बनाते समय, एक महिला के योनि से रक्त का स्राव उसके हाइमन की झिल्ली के फटने के कारण होता है। हाइमन त्वचा की एक बहुत पतली परत होती है, जो महिलाओं की योनी पर स्थित होती है। जब हाइमन का अस्तर ठीक हो जाता है, तो यह मुख्य रूप से सेक्स के दौरान टूट जाता है।

फर्स्ट टाइम सेक्स करने के अलावा निम्न कारणों से भी हाइमन टूट सकता है।

  • घोड़े की सवारी
  • टैम्पोन के इस्तेमाल से 

महिलाओं को हाइमन फटने के बारे में पता ही नहीं चलता। हर बार दर्द और असामान्य रक्तस्राव नहीं होता है। इसलिए अगर किसी महिला का हाइमन टूट जाता है तो यह नहीं समझना चाहिए कि वह  वर्जिन नहीं है  । अगर आपको फर्स्ट टाइम सेक्स करते समय भारी रक्तस्राव होता है, तो आप स्त्री रोग विशेषज्ञ से भी बात कर सकती हैं।

  • जरूरी नहीं कि लड़का फर्स्ट टाइम सेक्स के दौरान पहल करे, अगर आपका साथी पहल करने से डरता है, तो आप भी पहल कर सकते हैं, लेकिन दोनों में से किसी को भी जल्दबाजी नहीं करनी चाहिए। 
  • खासतौर पर पुरुषों को अपने पार्टनर के साथ फौरन सेक्स नहीं करना चाहिए बल्कि इससे पहले उनके पार्टनर को सहज महसूस करना चाहिए ताकि वह आपका साथ दे सकें।
  • फर्स्ट टाइम सेक्स करने से पहले आप अपने पार्टनर से बात कर सकते हैं और इस दौरान आप फोरप्ले भी कर सकते हैं। 
  • अगर आपके मन में कोई आशंका या आशंका है तो कुछ भी करने से पहले थोड़ा समय निकालें। फर्स्ट टाइम सेक्स करते समय सावधान रहना बहुत जरूरी है।
  • पति-पत्नी का रिश्ता जीवन भर के लिए होता है, अगर इसकी शुरुआत अच्छी बातों से हो तो अच्छा है। अपने जीवन साथी को कम से कम पहले दो घंटों के लिए जानने की कोशिश करें। 
  • सेक्स प्रेम का अंतिम रूप है। अपने पार्टनर को इस बात का पूरा यकीन दिलाएं कि आप उसके लिए बेस्ट पार्टनर हैं। 
  • फर्स्ट टाइम सेक्स के दौरान जल्दबाजी न करें। बेहतर होगा कि आप पहले अपने पार्टनर को बाहों में भर लें।
  • कई बार लोग पहली बार शारीरिक संबंध बनाते समय जल्दबाजी दिखाने लगते हैं। लेकिन इस समय आपको अपनी भावनाओं पर नियंत्रण रखना चाहिए। पहली बार इस तरह का रिश्ता बनाने में हर कोई थोड़ा डरा हुआ महसूस करता है।
  • पहली बार शारीरिक संबंध बनाते समय किसी भी तरह के नए प्रयोग से बचना चाहिए। 
  • इस दौरान आप पार्टनर को उनकी पसंद का तोहफा दे सकते हैं।
  • इसके अलावा सबसे जरूरी बात यह है कि जब भी आप सेक्स करें तो सुरक्षित तरीके से करें और दूसरी बात इसमें महिलाओं की इज्जत पर पूरा ध्यान दें। उन्हें किसी भी तरह से जबरदस्ती करने की कोशिश न करें।

इन टिप्स को अपनाकर आप न सिर्फ फर्स्ट टाइम सेक्स की रात को यादगार बना सकते हैं, बल्कि अपने पार्टनर की आंखों में रोमांटिक इमेज भी बना सकते हैं।

कुछ लोगों का मानना ​​है कि फर्स्ट टाइम सेक्स करने   से महिलाओं  की योनि में दर्द होता है । वहीं कुछ लोग इस बात को महज भ्रम मानते हैं। ऐसी बात को लेकर महिलाओं के मन में कई तरह के विचार आते हैं। कुछ मामलों में ऐसा देखा जाता है लेकिन हर महिला के लिए ऐसा होना संभव नहीं है। यह कोई सेक्स समस्या नहीं है। फर्स्ट टाइम सेक्स करने के बाद महिलाओं की योनि में कई कारणों से दर्द हो सकता है। शारीरिक बनावट के मामले में सभी महिलाएं अलग-अलग होती हैं। तो उनकी परेशानी भी अलग हो सकती है। पहली बार सेक्स करने के बाद कई महिलाओं को पेशाब करने में भी दर्द होता है। आइए जानते हैं फर्स्ट टाइम सेक्स करने के बाद होने वाली कुछ समस्याओं के बारे में।

  • पुरुषों की तरह महिलाओं की भी सेक्स में रुचि होती है। फर्स्ट टाइम सेक्स के दौरान सहज न होने और तनाव के कारण महिलाओं में मानसिक और शारीरिक परेशानी होने लगती है। 
  • यहां तक ​​कि जब महिलाएं जबरदस्ती सेक्स करती हैं तो भी उन्हें कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। 
  • पहली बार आपके मन में सेक्स को लेकर बैठे डर के कारण महिलाएं इसमें पूरा सहयोग नहीं कर पा रही हैं. 
  • मन के डर के कारण महिलाएं फर्स्ट टाइम सेक्स करने में सहज नहीं होती हैं और इस वजह से उनका  योनि स्राव  (सेक्स से पहले योनि से निकलने वाला द्रव) पहले ही हो जाता है। 
  • कई बार महिलाएं जीवन में किसी घटना से बहुत घबरा जाती हैं और सेक्स के समय उसी घटना को याद करके वह डर जाती हैं। वहीं पार्टनर को छूने मात्र से ही वह असहज महसूस करने लगता है। 
  • जब महिलाएं उत्तेजित हो जाती हैं या परमानंद प्राप्त कर लेती हैं, उसके बाद भी साथी सेक्स करता रहता है, तब भी महिलाओं की योनि में दर्द होता है।
  • महिलाओं को योनि में संक्रमण होने पर भी फर्स्ट टाइम सेक्स करते समय दर्द होता है। 
  • फर्स्ट टाइम सेक्स करने का दर्द महसूस होने के बाद महिलाएं सेक्स करने से दूरी बना लेती हैं। जिससे उनका रिश्ता खराब हो जाता है। यह फोरप्ले की कमी या चिकनाई की कमी के कारण भी हो सकता है। 
  • कई बार इंफेक्शन की वजह से भी ऐसा हो जाता है। 
  • जब महिलाएं सेक्स के दौरान सहज नहीं होती हैं, तो उनकी योनि में संकुचन होता है, ऐसे में पुरुष साथी के जबरदस्ती सेक्स करने से योनि में दर्द होता है। 
  • आपकी  अवधि फर्स्ट टाइम सेक्स को और अधिक दर्दनाक बना सकती है  

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button