Notifications
×
Subscribe
Unsubscribe
फल-फ्रूट

पिस्ता क्या है – पिस्ता खाने के फायदे और नुकसान

Read in English

पिस्ता सूखे मेवों में बहुत प्रसिद्ध है, क्योंकि पिस्ता शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होता है। लंबे समय तक बीमार रहने के बाद शरीर में होने वाली कमजोरी में पिस्ता का सेवन बहुत फायदेमंद होता है। पुरुषों की यौन समस्याओं में भी पिस्ता फायदा करता है। पिस्ता खाने के कई फायदे होते हैं। पिस्ता को लोग बहुत चाव से खाते हैं, लेकिन इसके बाद भी बहुत कम लोग जानते हैं कि पिस्ता कितना पौष्टिक होता है। आइए जानते हैं कि पिस्ता खाने के क्या फायदे हैं आयुर्वेद में पिस्ता का क्या महत्व है और इसके गुण क्या हैं। यहां जानिए पिस्ता के फायदे और नुकसान (पिस्ता के फायदे और साइड इफेक्ट) भी मिलेंगे.

पिस्ता क्या है? (पिस्ता नट क्या है?)

पिस्ता का पेड़ करीब 10 मीटर ऊंचा, छोटा, आम के पेड़ जैसा दिखता है। इसकी पत्तियों पर एक प्रकार की कीट कोशिका (कीटों का घर) बनती है। यह एक तरफ गुलाबी और दूसरी तरफ पीले-सफेद रंग का होता है। इसके फल 10-20 मिमी लंबे और 6-12 मिमी व्यास वाले होते हैं। पिस्ता के फल का छिलका हल्के पीले से गहरे पीले रंग का होता है।

पिस्ते के फल का बाहरी छिलका निकाल कर खाने के लिए अन्दर का पीला भाग प्रयोग किया जाता है, गिरि कहते हैं। गिरी पर एक महीन लाल त्वचा होती है। आयुर्वेद के अनुसार पिस्ता कफ-पित्त बढ़ाने वाला, वात दोष को दूर करने वाला, शक्ति प्रदान करने वाला माना गया है। पिस्ता के पेड़ का फूल और फल द्रव्यमानजून के महीने में वारी में आता है।

आमतौर पर लोग पिस्ता को डाइट के तौर पर खाते हैं। डाइट पर रहने वाले लोग भी पिस्ता का सेवन करते हैं। पिस्ता में फाइबर, कार्बोहाइड्रेट, अमीनो एसिड, फैट होता है जो न सिर्फ सिरदर्द, मुंह से दुर्गंध, डायरिया, खुजली में फायदेमंद होता है बल्कि कमजोरी को दूर करने के साथ-साथ याददाश्त तेज करने में भी मदद करता है। है। इसके फल का उपयोग सूखे मेवे जैसे पौष्टिक व्यंजन बनाने में किया जाता है, और औषधीय कार्यों में उपयोग किया जाता है। इसके फल का छिलका औषधीय प्रयोजनों के लिए भी प्रयोग किया जाता है। यहां आपकी आसान भाषा में पिस्ता के फायदे की जानकारी दी गई है।

विभिन्न भाषाओं में पिस्ता के नाम

पिस्ता का वानस्पतिक नाम पिस्ता वेरा लिनन। (पिस्ता वेरा) और it एनाकार्डियासी (एनाकार्डियासी) परिवार से संबंधित है, जिसे दुनिया भर में कई नामों से जाना जाता है, जो इस प्रकार हैं:-

पिस्ता में –

  • पिस्ता का संस्कृत में नाम – मुकुलक, अभिषेक, चारुफल;
  • पिस्ता का नाम हिंदी में-पिस्ता, गली पिस्ता;
  • मराठी में पिस्ता का नाम- पिसता;
  • गुजराती में पिस्ता का नाम- पिस्ता (पिस्ता);
  • मलयालम में पिस्ता का नाम- पिसता;
  • पिस्ता का नेपाली में नाम- पिस्ता (पिस्ता);
  • पिस्ता का उर्दू में नाम- गुले पिस्ता, पिस्ता
  • पिस्ता का अंग्रेजी में नाम- हरा बादाम, पिस्ता, पिस्ता;
  • अरबी में पिस्ता का नाम- फिस्टाक, फुस्तुक;
  • पिस्ता का फारसी में नाम- पिस्ता।

पिस्ता पिस्ता लाभ और उपयोग,

पिस्ता खाने का स्वाद तो बढ़ाता ही है, साथ ही कई बीमारियों में पिस्ता के फायदे भी बढ़ाता है (पिस्ता लाभ) फिर मिलते हैं। आइए जानते हैं इनके बारे में:-

पिस्ता खाने से सिर दर्द में आराम

आज की तनावपूर्ण और प्रतिस्पर्धी जीवन शैली के कारण सिरदर्द एक आम बीमारी बन गई है। पूरे दिन तनाव के कारण या खाने की आदतों में बदलाव के कारण भी थकान और सिरदर्द हो सकता है। कंप्यूटर पर काम करने से भी सिरदर्द होता है। पिस्ता के दर्द निवारक गुण सिरदर्द को कम करने में उपयोगी होते हैं। पिस्ता के बीज के तेल को सिर की त्वचा पर लगाने या सूंघने से सिर दर्द में पिस्ता का लाभ मिलता है।

आर

सिर दर्द में पिस्ता के फायदे

सिर में जुओं की समस्या में पिस्ता के फायदे (पिस्ता सिर की जूँ के इलाज के लिए उपयोग करता है)

आजकल बहुत से लोगों के बाल बेजान हो जाते हैं, बालों का रूखापन हो जाता है, और वे इसे दूर करने के उपाय खोजते हैं। क्या आप जानते हैं कि पिस्ता बालों को मजबूत बनाने में मदद करता है। यह बालों से जुओं को हटाने में भी मदद करता है।

पिस्ता की छाल का काढ़ा बनाकर इससे सिर को धो लें। इससे सिर के बाल मजबूत होते हैं और जुओं से भी छुटकारा मिलता है।

सांसों की बदबू की समस्या में पिस्ता उपयोग करने के लाभ

अक्सर खाने में गलती की वजह से पेट में गड़बड़ी हो जाती है और इस वजह से मुंह से दुर्गंध आने लगती है। कई बार ऐसी समस्या मसूड़ों की बीमारी के कारण भी हो जाती है। इस रोग में पिस्ता खाने के फायदे मिलते हैं। मसूढ़ों के रोग हो तो पिस्ता की गिरी चबाएं। इससे सांसों की दुर्गंध की समस्या दूर होती है।

बवासीर में पिस्ता के फायदेपाइल्स से राहत पाने के लिए पिस्ता

बवासीर बवासीर के लिए यह भी कहा जाता है कि यह बहुत ही कष्टदायक रोग होता है। जब रोग गंभीर हो जाता है तो बवासीर के घाव से खून बहने लगता है। रोगी को हर बार मल त्याग करने पर असहनीय दर्द से गुजरना पड़ता है। इस दर्द से राहत पाने के लिए पिस्ते का इस तरह करें इस्तेमाल-

पिस्ता के पेड़ की छाल को पीसकर बवासीर पर लगाएं। इससे दर्द से राहत मिलती है।

अधिक पढ़ें बवासीर के दर्द में पत्ता गोभी के फायदे

दस्त में पिस्ता फायदे

जो लोग लगातार डायरिया से परेशान रहते हैं वे पिस्ता का सेवन कर सकते हैं। पिस्ता के पेड़ की छाल का काढ़ा बना लें। इसे पीने से दस्त बंद हो जाते हैं (पिस्ता के इंटरैक्शन) प्रतीत।

हीव्स में पिस्ता उपयोग करने के लाभ

पित्त का नाम तो आपने नहीं सुना होगा लेकिन इस बीमारी को आप अच्छी तरह से जानते होंगे। इसे पित्ती या पित्ती के नाम से भी जाना जाता है। इसमें त्वचा पर लाल-लाल दाने दिखने लगते हैं, जिसमें खुजली होने लगती है। इस में पिस्ता के बीज का तेल लगाने से लाभ होता है।

कमजोरी में लाभदायक पिस्ता उपभोग करने के लिए

पिस्ता खाने का फायदा आप शारीरिक कमजोरी में ले सकते हैं। इस से शारीरिक और मानसिक कमजोरी कम होती है। इसके लिए पिस्ता के बीजों को भूनकर खाएं।

खुजली दूर करने के लिए पिस्ताखुजली में पिस्ता के फायदे

कभी किसी दवा के साइड इफेक्ट की वजह से तो कभी प्रदूषण के साइड इफेक्ट की वजह से या फिर त्वचा में रूखापन की वजह से खुजली की समस्या हो जाती है। पिस्ता के पेड़ की छाल का इस तरह इस्तेमाल करने से खुजली से राहत मिल सकती है।

पिस्ता के पेड़ की छाल और पत्तियों का काढ़ा बना लें। इससे प्रभावित क्षेत्र को धो लें। यह सूखी खुजली को ठीक करता है।

खुजली में पिस्ता के फायदे खुजली में पिस्ता के फायदे

स्मरण शक्ति बढ़ाने के लिए पिस्तापिस्ता बूस्ट मेमोरी

याददाश्त कमजोर होने से जीवन पर बहुत बुरा असर पड़ता है। बच्चे हों या बूढ़े, यह समस्या किसी को भी हो सकती है। अगर बच्चों की याद रखने की क्षमता कमजोर हो जाती है तो इसका असर उनकी पढ़ाई पर पड़ता है। पतंजलि के अनुसार, आपको याददाश्त की कमी जैसी समस्याओं का भी सामना करना पड़ सकता है। पिस्ता खाने के फायदे पिस्ता खाने के इंटरैक्शन) ले सकते हैं।

पिस्ता की गिरी, बादाम पके नारियल की गिरी मिश्री या मिश्री और घी को बराबर मात्रा में मिला लें। इसका सेवन 2-5 ग्राम मात्रा में करें। इसके साथ गाय का दूध पिएं। यह लाभ देता है।

दिल को स्वस्थ रखने के लिए पिस्ता के फायदे (दिल की सेहत के लिए फायदेमंद पिस्ता)

पिस्ता खाना दिल के लिए फायदेमंद होता है क्योंकि एक शोध के मुताबिक यह खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मददगार होता है जिससे दिल की बीमारी होने की संभावना कम हो जाती है।

स्वस्थ कोलन में फायदेमंद है पिस्ता

पिस्ता खाना कोलन के लिए फायदेमंद होता है, क्योंकि पिस्ता में पाए जाने वाले कुछ खास तत्व कोलन को मजबूत करते हैं। पिस्ता के सेवन से कोलन के म्यूकस मेम्ब्रेन में सूजन नहीं होती है और कोलन को बेहतर तरीके से काम करने में मदद मिलती है।

कर्क राशि में पिस्ता के फायदे

पिस्ता का सेवन कैंसर की रोकथाम में सहायक होता है। एक शोध के अनुसार पिस्ता में एंटी-कार्सिनोजेनिक तत्व पाए जाते हैं जो कैंसर को रोकने में मदद करते हैं।

बालों को स्वस्थ रखने के लिए कैंसर में पिस्ता के फायदे

पिस्ता का सेवन करना और बालों पर पिस्ता का तेल लगाना दोनों ही फायदेमंद होते हैं क्योंकि इसमें पाया जाने वाला विटामिन-ई बालों को मजबूती प्रदान करता है, साथ ही पिस्ता में स्निग्ध गुण होते हैं, जो स्कैल्प का रूखापन दूर कर बालों को जड़ों से हटाते हैं। बालों के झड़ने को मजबूत और रोकता है।

वजन घटाने में फायदेमंद है पिस्ता

पिस्ता का सेवन वजन कम करने का एक अच्छा तरीका माना जा सकता है क्योंकि इसमें पाए जाने वाले फाइबर और अन्य तत्व जल्दी भूख लगने की प्रवृत्ति को नियंत्रित करते हैं। जिससे बार-बार खाने की इच्छा नहीं होती और यह वजन को नियंत्रित करने में मदद करता है।

पिस्ता का उपयोगी हिस्सा,

आयुर्वेद में पिस्ते के बीज, छाल और पत्तियों का उपयोग औषधि के रूप में किया जाता है।

पिस्ता का इस्तेमाल कैसे करें पिस्ता अखरोट

यहाँ पिस्ता के सभी लाभों की जानकारी बहुत ही आसान और आपके समझने योग्य शब्दों में है। ताकि आप पिस्ते का पूरा फायदा उठा सकें, लेकिन पिस्ता का सेवन या सेवन करने से पहले किसी आयुर्वेदिक डॉक्टर से सलाह जरूर लें।

पिस्ता ड्राई फ्रूट कहाँ पाया जाता है या उगाया जाता है

पिस्ता का पेड़ मूल रूप से ईरान, अफगानिस्तान और मध्य एशिया में पाया जाता है। इसके अलावा दुनिया में इटली, तुर्की, सीरिया, पाकिस्तान, मिस्र और इराक में इसकी खेती की जाती है।

Read in English

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button