यौन-स्वास्थ्य

Night Fall: क्या स्वप्नदोष को रोका जा सकता है? जानें इसका इलाज

Night Fall क्या स्वप्नदोष को रोका जा सकता है जानें इसका इलाज

आपके सोते समय वीर्य का स्त्राव को स्वप्नदोष कहते हैं. चाहे आपका लिंग तना हुआ हो या नहीं, वीर्य आपके लिंग से अपने आप बाहर निकल जाता है। जी हाँ, अपने बिस्तर में पेशाब नहीं किया है, लेकिन आपका वीर्यपात हुआ है!

कुछ लड़कों के लिए, स्वप्नदोष उनका पहला वीर्यपात भी हो सकता है। और आपको बिना सेक्स के बारे में सोचे भी स्वप्नदोष हो सकता है।

स्वप्नदोष क्यों होता है?

जब पुरुष अपनी यौवनावस्था (Puberty) से गुजरते हैं, तो उनके शरीर में टेस्टोस्टेरॉन नाम का मेल हॉर्मोन का उत्पादन शुरू हो जाता है। जब आपका शरीर टेस्टोस्टेरॉन का उत्पादन शुरू करने लगता है, तो वो स्पर्म को रिलीज कर सकता है। स्पर्म रिलीज करने पर ही कोई पुरुष किसी महिला को गर्भवती कर सकता है। यौवनावस्था के दौरान टेस्टोस्टेरॉन हॉर्मोन की वजह से ही आपका पेनिस इरेक्ट होता है। जब शरीर में टेस्टोस्टेरॉन की मात्रा ज्यादा हो जाती है, तो आपको सोते हुए भी इरेक्शन हो जाता है। जिस वजह से आपके शरीर में बनने वाला स्पर्म शरीर से बाहर निकलता है। जिसका एकमात्र माध्यम स्वप्नदोष या वेट ड्रीम होता है।

दूसरी तरफ, आप इसे इस तरह से भी समझ सकते हैं कि, सोते हुए आपके जननांग में ब्लड फ्लो बढ़ जाता है, जिससे वह हाइपरसेंसिटिव होते हैं। इसलिए, अगर आप सेक्शुअल ड्रीम देख रहे हैं या बेड या कपड़ों की वजह से इरेक्शन होता है, तो पेनिस से तरह पदार्थ निकलने लगता है। ऐसा महिलाओं के साथ भी हो सकता है, जिसे स्वप्नदोष कहते हैं।

क्या स्वप्नदोष होना नोर्मल है?

स्वप्नदोष होने में कोई खराबी नहीं है। यह बड़े होने का स्वाभाविक हिस्सा है। अगर आपको बहुत ज्यादा स्वप्नदोष भी होता है, इसका मतलब यह नहीं की आपके शरीर में कोई खराबी है। और इस से आपके शरीर और सेहत पर कोई बुरा असर नहीं पड़ता।

कुछ लोगों को हफ्ते में कई बार स्वप्नदोष होता है। और कुछ को अपनी पूरी ज़िन्दगी में केवल कुछ ही बार स्वप्नदोष होता है। जैसे-जैसे आप उम्र में बड़े होते हैं, स्वप्नदोष होने की संभावना उतनी ही घट जाती है।

‘स्वप्नदोष’ को दूर करने के घरेलु उपाय

वास्तव में ये कोई बड़ी स्वास्थ सम्बन्धी परेशानी नही है लेकिन इसे युवकों में मानसिक तनाव, कॉन्फिडेन्स की कमी और दूसरी सामाजिक प्रॉब्लम्स के लिए जिम्मेदार माना जाता है। स्वप्नदोष को रोकने के लिए कुछ लोग अंग्रेजी दवा भी लेते है, पर बिना मेडिसिन के घरेलू नुस्खे और देसी इलाज से भी नाईट फॉल को रोका जा सकता है। आइये जाने घरेलु तरीके अपना कर स्वप्नदोष कैसे रोका जाये।

  1. कई जानकार मानते हैं कि सोने से पहले हस्तमैथुन करने से भी स्वप्नदोष से बचा जा सकता है। हालांकि, इस बात को लेकर विशेषज्ञों में एकराय नहीं है।
  2. तुलसी की जड़ के टुकड़े को पीसकर पानी के साथ पियें। इससे लाभ होगा। अगर जड़ नहीं मिले तो बीज 2 चम्मच शाम के समय लें। काली तुलसी के पत्ते 10-12 रात में जल के साथ लें।
  3. सुबह के समय गाय का दूध पीना चाहिए तथा सांय को उबली हुई सब्जियों व सलाद का सेवन करना चाहिए इससे रोगी को अधिक लाभ होता है।
  4.  आप हर रोज सोने से पहले दूध में बनाना घोल कर उसका शेक तैयार कर लीजिए। इसे सोने से आधा घंटा पहले पी लीजिए। ये कमाल का देसी इलाज है जो स्वप्नदोष को रोकने में मदरगार है। ये वीर्य भी बढ़ता है और मर्दाना कमज़ोरी दूर करता है। इस नुस्खे का उपयोग आपको हर रात एक महीने के लिए करना है।
  5. अदरक का रस पांच ग्राम, दस ग्राम सफेद प्याज, देसी शहद तीन ग्राम और देसी घी तीन ग्राम मिला ले और सोने से पहले इसका सेवन करे। नाईट फेल की प्राब्लम दूर करने के लिए ये उपाय काफी असरदार है।
  6. अनार के छिलके का पाउडर : अनार के छिलके को सुखाकर और पीस कर पाउडर तैयार कर लीजिए। इस पाउडर के एक बड़े स्पून को रात को सोने से पहले पानी के साथ ग्रहण करने से स्वप्नदोष समाप्त हो जाता है। यदि दिन में दो बार आप इसका सेवन करेंगे तो अधिक लाभ होगा। ये स्वप्नदोष के लक्षण को भी कम करने में असरदार माना जाता है।

 

स्वप्नदोष के नुकसान – Side effects of nightfall in Hindi

स्वप्नदोष, हालांकि हानिरहित होता है लेकिन अगर ये लम्बे समय तक चलता है तो नीचे दिए गए दुष्प्रभाव हो सकते हैं –

 

  • इससे चक्कर, घुटनों में दर्द और अनिंद्रा की समस्या होने लगती है।
  • इससे स्मरणशक्ति की समस्या बढ़ने लगती है और आँखों की रोशनी कम हो जाती है। 
  • स्वप्नदोष से शुक्राणुओं की संख्या कम होने लगती है।
  • स्वप्नदोष की वजह से पुरुषों में कामुक विचार अधिक आने लगते हैं।
  • इससे मानव शरीर के हॉर्मोन्स में भी बाधा उतपन्न होती है।
  • पुरुषों का सेक्स जीवन में फुर्तीलापन खत्म हो जाता है।
  • तनाव और चिंताओं की समस्या बढ़ने लगती है। 
  • रोज़ाना के कार्यों में जल्दी थकावट महसूस होने लगती है।
  • व्यक्ति आत्म-विश्वास खोने लगता है।
  • खून की कमी होने लगती है।
  • स्वप्नदोष के कारण अंडकोष में दर्द होने लगता है।
  • गैस और बदहजमी की समस्या पनपने लगती है।
  • बालों का झड़ना शुरू हो जाता है।
  • व्यक्ति कमजोर होने लगता है।
  • कब्ज की परेशानी शुरू हो जाती है। 

 

(और पढ़ें – कब्ज के घरेलू उपाय)

स्वप्नदोष के लिए हर्बल मेडिकेशन

आयुर्वेद के मुताबिक, स्वप्नदोष के उपचार के लिए कुछ हर्बल सप्लीमेंट्स या दवाई का इस्तेमाल किया जा सकता है। जैसे-

गिलोय

धनिया

आंवला

अश्वगंधा

सामान्यतः हर्बल मेडिसिन के दुष्प्रभाव नहीं होते हैं। लेकिन, इसका मतलब यह नहीं है कि हर्बल मेडिसिन बिल्कुल सुरक्षित होती हैं। कुछ स्वास्थ्य स्थितियों या आपके द्वारा ली जा रही अन्य दवाओं के साथ हर्बल मेडिसिन लेना समस्या पैदा कर सकता है। इसलिए, किसी भी हर्बल दवा को सेवन या प्रयोग करने से पहले किसी डॉक्टर या हर्बलिस्ट से संपर्क करें। ताकि वो आपको उसके सभी फायदे और नुकसान के बारे में विस्तार से बता सके।

स्वप्नदोष के लिए टिप्स

जैसा कि हमने आपको ऊपर बताया है कि स्वप्नदोष का कोई उपचार या ट्रीटमेंट उपलब्ध नहीं है। लेकिन, कुछ टिप्स की मदद से आप स्वप्नदोष को कम कर सकते हैं।

 

  • सोने से कम से कम दो घंटे पहले पानी या अन्य तरल पदार्थों का सेवन बंद कर दें।
  • सोने के एक घंटे के अंदर पेशाब करके सोयें।
  • सोने से पहले अपने दिमाग को शांत रखें, ताकि आपको गहरी और अच्छी नींद प्राप्त हो। इसके लिए, आप सोने से पहले सूदिंग म्यूजिक या बुक पढ़ सकते हैं।
  • स्वप्नदोष को कम करने के लिए मेडिटेशन बहुत अच्छा विकल्प साबित हो सकता है। क्योंकि, तनाव के दौरान आपको गहरी और अच्छी नींद प्राप्त नहीं हो पाती और इस वजह से आपके सपने देखने की संभावना बढ़ती है। मेडिटेशन का अभ्यास करके तनाव को कम किया जा सकता है और दिमाग को शांत रखा जा सकता है।

 

 

इन चीजों से बचें

 

  • पॉर्न देखने से भी स्वप्नदोष की स्थिति पैदा होती है। क्योंकि, ज्यादा पॉर्न देखने से आपके दिमाग में सेक्शुअल इमेज, विचार ज्यादा आते हैं। जो कि, सोते हुए भी आपको सपने के रूप में दिख सकते हैं। जिससे स्वप्नदोष हो सकता है।
  • पेट के बल सोना बंद करें और इसकी जगह आप अपनी दाईं तरफ सोयें, जिससे उत्तेजना नहीं होगी। आप सोते हुए ढीले कपड़े भी पहनकर सो सकते हैं, जिससे स्वप्नदोष में कमी आ सकती है।
  • जननांग में ब्लड फ्लो बढ़ने से भी स्वप्नदोष होता है। इसके लिए आप सोने से पहले ठंडे पानी से नहा सकते हैं, जिससे आपके जननांग की संवेदनशीलता कम होती है।
  • तीखा या चटपटा खाने से सेक्स ड्राइव बढ़ती है और आपके शरीर में उत्तेजना हो सकती है। इसलिए, आप खाने में तीखा या चटपटा खाना कम करें।

 

स्वप्नदोष के लिए योगासन

स्वप्नदोष के लिए कुछ योगासन कारगर माने जाते हैं, जो कि आपके दिमाग को शांत रखने और जननांग में ब्लड फ्लो को नियंत्रित रखने में मदद करते हैं। जानें इन योगासनों के बारे में।

वज्रासन

वज्रासन करने के लिए एक समतल जमीन पर दोनों घुटनों को मोड़कर बैठ जाएं और अपनी कमर सीधी कर लें। इसके बाद अपनी दोनों हथेलियों को अपने दोनों घुटनों पर रख लें और गहरी सांस लें और छोड़ें।

धनुरासन

धनुरासन करने के लिए जमीन पर पेट के बल लेटकर पैरों के बीच कमर जितना फासला कर लें और हाथों को शरीर के दोनों तरफ जमीन पर टिका लें। इसके बाद अपने घुटनों को मोड़ते हुए अपनी कमर की तरफ लाएं और अपने हाथों से पैरों को टखनों के पास से पकड़ें। अब अपने सिर और छाती को पैर की तरफ उठाते हुए शरीर में कसाव पैदा करें। अब इसी अवस्था में कुछ देर रहें और लंबी-लंबी सांस लें।

ध्यान और प्राणायम

इसके अलावा ध्यान और प्राणायम की मदद से भी आप स्वप्न दोष से बच सकते हैं। इनकी मदद से आपका अपने शरीर पर नियंत्रण रहता है और बेवजह की बातों को न सोचकर अच्छी नींद प्राप्त करते हैं। इससे स्वप्न दोष हाेने की संभावना समय के साथ कम हो जाती है।

क्या स्वप्नदोष किसी परेशानी का संकेत है? – Kya Swapandosh (Nightfall) kisi pareshani ka sanket hai?

स्वप्नदोष लड़कों के बड़े होने का संकेत है। अगर आपको स्वप्नदोष अधिक होता है तो भी यह परेशान होने वाली बात नहीं है। कुछ पुरुषों में यह हफ्ते में 2-3 बार होता है, जबकि कुछ लोगों को पूरे जीवन काल में 2-3 बार इसका अनुभव होता है। जिन पुरुषों में वृषण (Testes) नहीं होते उनमें स्वप्नदोष नहीं पाया जाता है और यह जरूरी नहीं कि प्रत्येक पुरुष को स्वप्नदोष हो, इसलिए अगर आपको स्वप्नदोष नहीं होते तो भी कोई परेशानी की बात नहीं है।

क्या महिलाओं को स्वप्नदोष होता है? – Kya mahilaon ko Swapandosh (Nightfall) hota hai?

लड़कियों में स्वप्नदोष नहीं होता है, क्योंकि उनमें इस तरह (वीर्य स्थानांतरण) की प्रक्रिया नहीं होती है।

4 Comments

  1. Pingback: गर्भनिरोधक के आधुनिक तरीके: जो आपके लिए सुरक्षित और उपयुक्त है? - vkhealth
  2. Pingback: महिला चरमोत्कर्ष के 5 संकेत जो पुरुषों को जानना चाहिए » vkhealth
  3. Pingback: 5 signs of female climax that men should know » vkhealthen
  4. Pingback: 5 signs of female climax that men should know » vkhealthen

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button